Beauty Tips In Hindi

खांसी और जुकाम के प्राकृतिक और घरेलू उपचार | Home Remedies to cure Cough and Cold

Khansi aur Jukam theek karne ke Gharelu Upaye | Home Remedies to Cure Cough and Cold in Hindi

खांसी और जुकाम के घरेलू उपचार

दोस्तों वैसे तो सर्दी, खांसी, जुकाम होना एक आम बात है, पर कई लोगों इम्युनिटी कम होने के कारण बार बार इनकी चपेट में आते हैं| गले में खराश, नाक बंद होना,छींके और खाँसी यह सब ठण्ड लगने के लक्ष्ण हैं| ऐसे में लोग दवाएं लेते हैं और सिरप लेते हैं| बार बार इन दवाओं के इस्तेमाल से आपके शरीर को नुकसान पहुँचता है| यदि आपको बुखार है, आपके गले में सुजन  है, कफ के साथ खांसी या गंभीर सर दर्द है तो तुरंत आप अपने डॉक्टर की सलाह लीजिये, लेकिन सर्दी के दुख को कम करने के लिए, प्राकृतिक भारतीय घरेलू उपचार आपको कुछ राहत प्रदान कर सकते हैं|

लहसुन और शहद | Garlic and Honey to Cure Cough and Cold

आपको चाहिये होगा: 1-2 लहसुन की कलियाँ,1 चम्मच शहद

लहसुन की कलियों को अच्छे से मैश करें और इसमें शहद मिलाएं| कुछ अध्ययनों ने संकेत दिया है कि इसका उपयोग ठंड से राहत में तेजी लाने के लिए किया जा सकता है| इसमें एंटीवायरल यौगिक हैं जो ठंड के कारण पैदा होने वाले वायरस को मार सकते हैं और लक्ष्णों को कम कर सकते हैं|

तुलसी | Basil

आयुर्वेदिक चिकित्सा में इसके गुणों को उपचार के लिए सम्मानित किया गया है| आमतौर पर खाँसी और सर्दी के लिए तुलसी की ज्यादा सिफारिश की जाती है। आप तुलसी के कुछ पत्तों के प्रयोग से इन बिमारियों को दूर कर सकते हैं| आप सर्दी और खांसी दूर करने के लिए तुलसी की चाय या फिर तुलसी वाला दूध पी सकते हैं| इस से आपको जल्दी रहत मिलेगी|

हल्दी के साथ अपने ठंड और खांसी का इलाज करें | Cure Cough and Cold with Turmeric

हल्दी खांसी और सर्दी से पीड़ित व्यक्तियों के लिए सुरक्षात्मक और साथ ही चिकित्सीय कार्रवाई होती है। हल्दी में एंटी वायरल और एंटी-बैक्टीरिया है, जो संक्रमण को हरा सकते हैं। जब आप अपने गले में खराश महसूस करते हैं जो गले में खांसी या खांसी की शुरुआत का संकेत है। ऐसी स्थिति में हल्दी का उपयोग करना सबसे उपयोगी है| हल्दी संक्रमण को रोकने में मदद करती है| हल्दी का उपयोग करने का सबसे आसान तरीका है हल्दी और दूध| एक गिलास दूध में हल्दी का एक चम्मच मिलाएं| अब मिश्रण उबालें और इसे पी लें| आप मिश्रण में कुछ शहद भी मिलाएं जिससे इसमें मिठास आ जाए|

हर्बल चाय | Herbal Tea

ऊपर उल्लेखित हल्दी चाय के अलावा, अन्य हर्बल चाय भी हैं जो कि लगातार खांसी और ठंड से पीड़ित लोगों की सहायता करती है| ये चाय ठंड और खाँसी के लक्षणों से छुटकारा पाने के लिए मिर्च, अदरक, तुलसी और दालचीनी जैसे विभिन्न सामग्रियों के फायदेमंद प्रभावों को भी दिखाती है|

4 इलायची, 4 काली मिर्च, 4 लौंग, ताजा अदरक के कुछ छोटे टुकड़े और पानी में दालचीनी का एक छोटा टुकड़ा मिलाएं। मिश्रण को उबाल लें, लौ को कम करें, और इसे 10 से 15 मिनट तक उबाल लें। इसमें आप दूध या थोड़ा शहद भी मिला सकते हैं, इस चाय को आप गरम गरम ही पियें|

प्याज और शहद | Onion and Honey Cure Cough and Cold

आपको चाहिये होगा: 1 लाल प्याज, शहद

पयाज को छील लें और उसके छोटे छोटे स्लाइस करलें| इन स्लाइस को शहद में भिगोकर एक ठंडी जगह पर हवा-तंग कंटेनर में रातोंरात के लिए रख दें| सुबह 1-2 सूखे प्याज के टुकड़ों को खाएं। दिन में दो बार 1-2 स्लाइस लें। स्लाइस खत्म हो जाने पर आप बचे हुए शहद का भी उपयोग कर सकते हैं।

नींबू और काली मिर्च | Lemon and Black Pepper

आप खाँसी को शांत करने के लिए नींबू और काली मिर्च का उपयोग कर सकते हैं। एक पके हुए निम्बू को आधा काट लीजिये और इसके ऊपर काली मिर्च डाल दीजिये| खांसी को नियंत्रित करने के लिए इसे चूस लीजिये|

सेब  का सिरका | Apple Vinegar to Cure Cough and Cold

आपको चाहिये होगा:  1 चम्मच सेब  का सिरका, गर्म पानी का गिलास

गर्म पानी में सिरका मिलाएं और दिन में 2-3 गिलास पीएं| सेब  का सिरका शरीर के पीएच स्तर को फिर से संतुलित करता है और वायरस को जीवित रहने के लिए पर्यावरण को अनुपयुक्त बनाता है|

पेपरमिंट तेल और नारियल तेल | Peppermint and Coconut Oil

आपको चाहिये होगा, 4-5 बूंद पेपरमिंट तेल, 1 बड़ा चमचा नारियल तेल

दो तेलों को एक साथ मिलाकर छाती, गर्दन और माथे पर लगाएं| लंबे समय तक इसे लगा रहने दें। दूसरा तरीका गरम पानी में यह तेल डाल कर भाप लेना| गर्म पानी के साथ बाल्टी भरें| फिर इसमें आवश्यक तेलों के कुछ बूंदों को मिलाएं| पानी में स्नान करें और लाभ प्राप्त करें| इससे आपकी नाक को राहत मिलेगी और हवा में बैक्टीरिया या वायरस को मारने में मदद मिलेगी। इस विधि को दिन में दो बार आवश्य करें|

दही | Curd

आपको चाहिये होगा: सादा दही

भोजन के बीच में सदा दही ज़रूर खाएं| एक दिन में 1-2 कप दही खाएं। वर्ष के प्रत्येक सत्र में दही फायदेमंद होता है| सर्दी से पीड़ित होने पर दही में मौजूद प्रोबायोटिक्स शरीर में सूजन को कम करने और ठंड के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं|

 

Save

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *